सर्वनाम किसे कहते है । सर्वनाम के भेद, परिभाषा, उदाहरण

हिंदी व्याकरण का सबसे महत्वपूर्ण विषय है सर्वनाम। जिसकी जानकारी प्रत्येक हिंदी पढ़ने व बोलने वालों को होनी चाहिए। सर्वनाम एक ऐसा टॉपिक है, जिसके बारे में विद्यार्थियों को छोटी कक्षा में ही पढ़ा दिया जाता है। हिंदी भाषा सीखने और समझने के लिए जरूरी है, हिंदी व्याकरण के सभी पहलुओं को समझना जैसे संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया, वाक्य इत्यादि।  इसी वजह से आज हम इस लेख के जरिए सर्वनाम किसे कहते हैं सर्वनाम के कितने भेद होते हैं के बारे में संपूर्ण जानकारी आप तक पहुंचाएंगे, ताकि आपको सर्वनाम के बारे में ज्ञान प्राप्त हो सके।

सर्वनाम किसे कहते हैं

संज्ञा के स्थान पर जिन शब्दों का इस्तेमाल होता है, उसे सर्वनाम कहते हैं। सर्वनाम का मतलब हर किसी का नाम यानी कि कोई ऐसा शब्द जो किसी के भी नाम के जगह पर आए या यूँ कहे तो तमाम नाम वाली शब्दों के बदले उसका प्रयोग किया जाए तो उसे सर्वनाम कहा जाता है। बता दं की, दो शब्दो के मेल सर्वनाम से बना है यानी की सर्व + नाम यानी की सब का नाम जैसे कि वैसे स्थान जहाँ  कौन, किधर, कैसे, खुद, तुम, मै, हम इत्यादि जैसे शब्द आते हैं उन्हे ही सर्वनाम कहा जाता है।  इन तमाम शब्द को अलग अलग तरह से प्रयोग किया जाता है, क्योंकि इन सभी शब्दों का काम भिन्न-भिन्न  होता है, इसे और अच्छी तरह से समझाने के लिए हम यहाँ कुछ उदाहरण बता रहे है, जैसे –

अली इस्लाम धर्म को मानता है।

गाय से हमें दूध प्राप्त होता है

ऊपर दिए गे  वाक्यों में अगर सर्वनाम का प्रयोग करे तो इसे कुछ इस प्रकार लिख सकते है जैसे कि,

वह इस्लाम धर्म को मानने वाला है

उससे हमें दूध प्राप्त होता  है।

ऊपर बताए गए वाक्यों में संज्ञा शब्द है गाय और अली जिसके स्थान पर सर्वनाम शब्द का प्रयोग करके वाक्यों को और भी सुंदर ढ़ंग से लिख सकते हैं उसी प्रकार सभी सर्वनाम शब्द का इस्तेमाल  भिन्न-भिन्न  जगह किया जाता है जैसे कि

हम, मै, मुझे – जब कोई खुद के बारे में बात कर रहा हो, तब इन शब्दों का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि हम एक स्कूल के छात्र है।

अपने आप, खुद – जब भी कोई अपने बारे में या खुद के बारे मे कोई बात कह रहा हो तो, इन शब्दों का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि मै खुद को कभी माफ नही कर पाऊंग।

यह, ये, वह, वो, उन, वे – जब भी किसी के बारे में बात की जाती है, तब इन सभी शब्दों का प्रयोग किया जाता है जैसे कि वह घर बहुत आलिशान है।

कौन, किसका, किसके, क्यूँ,  किधर – जब भी कोई व्यक्ति किसी व्यक्ति से प्रश्न पूछता है, तब इन शब्दों का इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि तुम किधर जा रहे हो?

तुम, आप – जब भी कोई किसी को कुछ कहता है, या कुछ सुनाता है कोई बात बोलना होता है तब इन शब्दों का इस्तेमाल किया जाता हैं आप कहाँ से आए हो?

सर्वनाम के भेद

सर्वनाम के 6 प्रकार होते है। जैसे ज़ 

1 . पुरुषवाचक सर्वनाम

2 . निश्चयवाचक सर्वनाम

3 . अनिश्चयवाचक सर्वनाम

4 . प्रश्नवाचक सर्वनाम

5 . संबंधवाचक सर्वनाम

6 . निजवाचक सर्वनाम

पुरुषवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

जब सामने वाला व्यक्ति  कुछ शब्दों का इस्तेमाल स्वंम के लिए करता है यानी वे खुद के बारे में कुछ कह रहा होता है  या तो फ़ीर उन शब्दों का प्रयोग वह जिसके साथ बाते कर रहा है, उनके लिए करता है तो उसे पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं।  जैसे कि तुम्हें, मैं,  मेरा, हम, हमारा उन्हें, मुझे इन्हें, तुम, ये, यह आदि।

उदाहरण के लिए

मैं कल स्कूल आऊंगा

तुम अवार्ड कार्यक्रम मे आओगे

 हम एक ही कक्षा के छात्र है।

पुरुषवाचक सर्वनाम के 3 प्रकार होते हैं

1 ) उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम

2 ) मध्यम पुरुष वाचक सर्वनाम

3 ) अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम

उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम किसे कहते है

जब बात करने वाला व्यक्ति शब्दों का इस्तेमाल खुद को  सम्बोंधीत करने लिए करता है यानी खुद के बारे मे कुछ कहता है, तो उसे  उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम कहते है जैसे हमको, मैं,  हमारा, हम,  मेरा, मुझे, हमारी, मेरी आदि।

उदाहरण के लिए

मै हमेशा कक्षा मे टॉप करता हँ

मुझे गाना गाने का शौक है।

हम कल आए थे तुम्हारे घर।

मध्यम पुरुष वाचक सर्वनाम किसे कहते है

जब बात करने वाला व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को कुछ कह रहा हो यानी कि वैसे शब्द जिसका इस्तेमाल सामने वाले व्यक्ति को  कुछ बोलने के लिए किया जाता है उसे मध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम कहते है।  जैसे तुझे, तुमको,  तू, तुम्हारी,तुम, आप तुझको आदि।

उदाहरण के लिए 

तुम कल घर क्यूँ नही आए

आप कहाँ रहते है

अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम किसे कहते है

जब भी किसी शब्दों का इस्तेमाल किसी तीसरे व्यक्ति यानी किसी के सामने कोई और व्यक्ति के बारे में बात कर रहा हो तो, उसे अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं जैसे कि वह यह, उसे आदि।

उदाहरण के लिए

तुम उसे कहाँ छोड आए

वह बारिश में भीग रहा है। 

यह कौन है?

निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते है

जब भी कोई किसी भी वस्तु व्यक्ति या स्थान के लिए ये वो, उस आदी  शब्दों का इस्तेमाल करता है,वह भी चाहे वो दूर हो या पास तो उसे  निश्चयवाचक सर्वनाम कहते है

उदाहरण के लिए 

ये लाल किताब मेरी है

वे कपडे तो पूजा की है

ये कुछ दिनो से स्कूल नही आ रहा है।

अनिश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

जब भी कोई व्यक्ति, वस्तु या स्थान आदि के बारे में कोई बात तय यानी निश्चित ना हो जैसे की जब किसी भी वस्तु व्यक्ति या  स्थान आदि के बारे में हम अंदाजा लगा रहे हो तो समय जो शब्दों का इस्तेमाल करते है उन्हे अनिश्चित सर्वनाम कहते है। जैसे कुछ, कोई आदि।

उदाहरण के लिए

लालू कुछ तो खा लो।

आज कुछ चटपटा खाने का दिल कर रहा है।

शायद दरवाज़े पर कोई है

लागत है कोई चिल्ला रहा है।

संबंधवाचक सर्वनाम किसे कहते है

जब कोई किसी व्यक्ति या वस्तु का आपस मे संबंध बताता है,  तो उस समय जिन शब्दों का प्रयोग किया जाता है उन्हे ही संबंधवाचक सर्वनाम कहा जाता हैं। यानी कि जब भी दो अलग-अलग बातों को आपस में जोड़ कर कुछ कहा जात है, तो उसे संबंधवाचक सर्वनाम कहा जाता है। जैसे जो, जिसका, वैसा, जैसा आदि।

 उदाहरण के लिए  

जैसा बोओगे वैसा काटोगे

जिसकी लाठी उसकी भैंस

जैसा करोगे वैसा भरोगे

प्रश्नवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं

जब कोई किसी वस्तु या व्यक्ति आदि के बारे में किसी से कोई सवाल पूछाता है तो उसे ही प्रश्नवाचक सर्वनाम कहते है जैसे कि कब, क्या, कहां, किससे, कौन, क्यूँ आदि।

 उदाहरण के लिए

तुम कौन हो? 

आप किसके साथ आए हो?

पूजा कल कहां गई थी?

निजवाचक सर्वनाम किसे कहते है

जब बात कोई व्यक्ति खुद के बारे में किसी को कुछ कह रहा हो या सुना रहा हो तो उस समय वह व्यक्ति जिन शब्दों का इस्तेमाल करता है उसे ही निजवाचक सर्वनाम कहाते है जैसे कि  खुद, स्वंम आदि।

उदाहरण के लिए

 मै घर का सारा काम स्वयं करता हँ

 मै अपना होमवर्क खुद ही करती हँ

वह स्वंम अपना खाना बनाती है।

क्या तुम अपने आप ही चले जाऊंगे।

अन्तिम शब्द

दोस्तों मुझे उम्मीद है, कि आपको आज का यह लेख सर्वनाम किसे कहते है। अच्छी तरह से समझ आ गया होगा लेकिन फ़ीर भी यदि आपको इस लेख से सबंधित कोई प्रश्न पुछने हो तो निचे कमेंट सेक्शन में कमेंट करके पुछ सकते है। इसके अलावा यदि आपको यह लेख पसंद आया है, तो इसे अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को सर्वनाम के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *